मोहन सरकार कर्ज लेने में शिवराज से भी निकले आगे, सरकार ने लिया 5000 करोड़ का कर्ज

Author: Pratap Chaudhari

Post Date :

Rate this post

मोहन सरकार कर्ज लेने में शिवराज से भी निकले आगे, सरकार ने लिया 5000 करोड़ का कर्ज
इस लेख में हम मोहन सरकार कर्ज लेने में शिवराज से भी निकले आगे, सरकार ने लिया 5000 करोड़ का कर्ज के बारे में बात करने जा रहे हैं । अगर आपको कोई अन्य समस्या है तो नीचे कमेंट करें।


मध्यप्रदेश लगातार कर्ज के दलदल में डूबती जा रही है जिसे लेकर पूर्व सीएम कमलनाथ ने मोहन सरकार पर निशाना साधा है पूर्व सीएम कमलनाथ ने मोहन सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि यह नई सरकार तो मध्यप्रदेश को कर्ज के दलदल में शिवराज सरकार से भी तेजी से ले जा रही है। 

मध्यप्रदेश पिछले कुछ महीनों में हमने लगातार मध्यप्रदेश के कर्ज के बारे में आपको बताया और अब एक बार फिर एक और कर्ज की जानकारी मिली है जिसे खुद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बताया है कि मध्यप्रदेश सरकार रिजर्व बैंक के मुंबई कार्यालय के माध्यम से अपने गवर्मेंट स्टाक का विक्रय कर तीन हिस्सों में कुल पांच हजार करोड़ रुपए का कर्ज लेने जा रही है। और देखा जाय तो प्रदेश सरकार लगातार कर्ज के ऊपर कर्ज ले रही है। 

तीन हिस्सों में सरकार लेगी कर्ज 

जैसा कि हमने बताया सरकार 5000 करोड़ का कर्ज लेने जा रही है और उसे वह कुछ इस तरीके से तीन हिस्सों में लेगी सरकार दो हजार करोड़ का कर्ज 20 साल,उसके बाद दो हजार करोड़ का कर्ज 21 साल और एक हजार करोड़ का कर्ज 22 साल के लिए लेने वाली है तीनों ही कर्ज पर साल में दो बार कूपन रेट पर ब्याज का भुगतान किया जाएगा यह कर्ज सरकार 27 फरवरी को लेने वाली है। अगर हम इसका सही डाटा निकल कर देखें तो मध्यप्रदेश सरकार अपने कर्ज का बड़ा हिस्सा तो सिर्फ ब्याज चुकाने में ही गवा देगी। 

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश सरकार पहले ही 3.50 लाख करोड़ रुपए के ऊपर के कर्ज में पहले से ही थी उसके बाद मोहन सरकार के दो महीने के कार्यकाल में ही 17500 करोड रुपए का कर्ज ले लिया है।

सवाल यह भी उठता है कि प्रदेश सरकार लगतार इतना कर्ज क्यों ले रही है इसका जवाब देते हुए कमलनाथ ने कहा कि सरकार प्रदेश के कल्याण और विकास के लिए यह कर्ज नहीं ले रही है बल्कि अपने झूठे प्रचार और आने वाले चुनाव राजनीतिक कार्यक्रम करने के लिए यह सरकारी पैसा बर्बाद कर रही है। आने वाले कुछ महीने में ही लोकसभा चुनाव होने वाले हैं जिसके चलते मध्यप्रदेश सरकार पूरी तैयारी कर रही है। लगातार कर्ज में डूब रही मध्यप्रदेश सरकार के बारे में आपकी क्या राय है आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं। 

इसे भी पढ़ें –  कर्मचारियों को मिलेगा महाशिवरात्रि और होली का बोनस, सरकार दे रही है समय से पहले वेतन


नोट :- यह लेख केवल जानकारी के उद्देश्य से लिखा गया है, अधिक जानकारी के लिए आप आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं…

निष्कर्ष
इस लेख के माध्यम से हमने आपको मोहन सरकार कर्ज लेने में शिवराज से भी निकले आगे, सरकार ने लिया 5000 करोड़ का कर्ज से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है । यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करें, हमसे संपर्क करें हम आवश्यकतानुसार आपकी समस्या का समाधान करेंगे।

Tags

About Author

OK-Bharat.Com

हिंदी न्यूज, समाचार, रोजगार अपडेट, सरकारी नोकरी, जॉब कार्ड, एडमिट कार्ड, परीक्षा परिणाम सभी अब एक जगह पे।

Join Us

Recommended Posts

Courses after 12th science PCMB: 12वीं पीसीएम के बाद करियर

Unique Career Options after 12th: अपने Passion को अपना करियर बनाएं

Courses after 12th/ 12वीं के बाद कौन सा कोर्स सबसे अच्छा है?

10 हजार रुपए की पहले किस्त जारी

Seekho Kamao Yojana 2024 : मुख्‍यमंत्री सीखों-कमाओ योजना ऑनलाइन पंजीकरण

Indira Rasoi Yojana Online Registration, Eligibility | Rajasthan इंदिरा रसोई योजना 2024

Swayam Portal Registration: Online courses list – स्वयं पोर्टल से ऑनलाइन होगी लर्निंग

Important Pages

About Us

Contact Us

DMCA

Privacy Policy

This image has an empty alt attribute; its file name is OK-Bharat-W-Logo.png

हिंदी न्यूज, समाचार, रोजगार अपडेट, सरकारी नोकरी, जॉब कार्ड, एडमिट कार्ड, परीक्षा परिणाम सभी अब एक जगह पे।

Top Rated Posts

Courses after 12th science PCMB: 12वीं पीसीएम के बाद करियर

Unique Career Options after 12th: अपने Passion को अपना करियर बनाएं

Courses after 12th/ 12वीं के बाद कौन सा कोर्स सबसे अच्छा है?

10 हजार रुपए की पहले किस्त जारी

Recommended Posts

Courses after 12th science PCMB: 12वीं पीसीएम के बाद करियर

Unique Career Options after 12th: अपने Passion को अपना करियर बनाएं

Courses after 12th/ 12वीं के बाद कौन सा कोर्स सबसे अच्छा है?

10 हजार रुपए की पहले किस्त जारी